सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या का मामला. इसमें सुशांत के परिवार ने 3 अगस्त को एक बयान जारी किया. बयान में परिवार ने सुशांत के परिजनों की ओर से मुंबई पुलिस को भेजे गए मैसेज भी साझा किए हैं.

25 फ़रवरी, 2020 को सुशांत के जीजा ओपी सिंह ने मुंबई के ज़ोन 9 के DCP को Whatsapp पर मैसेज भेजा. मैसेज में कहा था कि सुशांत की ज़िंदगी ख़तरे में है. लेकिन बांद्रा पुलिस ने भी बयान जारी करके कहा है कि ओपी सिंह या परिवार के दूसरे लोगों की ओर से इस मामले में कोई भी लिखित कम्प्लेन नहीं दी गयी थी, जिस वजह से एक्शन लेने में अड़चन आ रही थी. मुंबई पुलिस का कहना है कि ओपी सिंह इस मामले को अनौपचारिक ढंग से सुलझाना चाह रहे थे.

सुशांत सिंह के पिता केके सिंह के मुताबिक़, 25 फ़रवरी, 2020 को मुंबई पुलिस को लिखित शिकायत भी दी थी. लेकिन मुंबई पुलिस ने कहा है कि पुलिस को केके सिंह की ओर से कोई भी लिखित शिकायत नहीं मिली है.

क्या लिखा था ओपी सिंह के संदेशों में?

DCP परमजीत सिंह दहिया को भेजे संदेशों में ओपी सिंह ने कहा था कि उनकी पत्नी, यानी सुशांत की बहन, अपने भाई की स्थिति को लेकर बहुत चिंता में रहती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here