KOLKATA, INDIA - MAY 15: Uttar Pradesh chief minister Yogi Adityanath during a press conference at West Bengal State BJP headquarters on May 15, 2019 in Kolkata, India. One of his public meetings ahead of the last phase polling of the Lok Sabha election has been cancelled following an alleged withdrawal of permission. (Photo by Arijit Sen/Hindustan Times via Getty Images)

अयोध्या में राम मंदिर को लेकर तैयारियां तेज हैं. 5 अगस्त को भूमि पूजन है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कार्यक्रम में शामिल होने की रजामंदी दे दी है. तारीख पर फैसला अयोध्या में 18 जुलाई को हुई बैठक में लिया गया. इसके बाद से रोजाना भूमि पूजन के कार्यक्रम से जुड़ी खबरें आ रही हैं. इनमें मंदिर के डिजाइन में बदलाव, भूमि पूजन की तैयारी, रामलला की पोशाक और अयोध्या में रंग-रोगन की खबरें शामिल हैं. इन्हीं तैयारियों की खास बातों पर एक नज़र डालते हैं.

योगी बोले- अयोध्या को दुनिया का गौरव बनाएंगे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ. वे भी 5 अगस्त के कार्यक्रम को भव्य बनाने में लगे हुए हैं. 25 जुलाई को वे अयोध्या गए थे. यहां उन्होंने तैयारियों का जायजा लिया और राम जन्मभूमि ट्रस्ट के सदस्यों से मुलाकात की. फिर कहा कि अयोध्या को देश और दुनिया का गौरव बना देंगे. अयोध्या के पास खुद को साबित करने का मौका है.

कौन-कौन होगा भूमि पूजन में शामिल

जैसा कि ऊपर बताया, भूमि पूजन 5 अगस्त को होगा. इसके लिए दोपहर में 12.15 बजे का मुहूर्त निकाला गया है. कोरोना वायरस का समय है. ऐसे में गिनती के लोग ही इसमें शामिल होंगे. पीएम मोदी, सीएम योगी के साथ ही संघ प्रमुख मोहन भागवत, कई राज्यों के मुख्यमंत्री, राम मंदिर आंदोलन के बड़े चेहरे जैसे- लालकृष्ण आडवाणी, साध्वी ऋतंभरा, उमा भारती, मुरली मनोहर जोशी, विनय कटियार, संघ-विश्व हिंदू परिषद के नेता और कई बड़ी हस्तियां भूमि पूजन के दौरान मौजूद रहेंगी. बताया जाता है कि मेहमानों की संख्या 200 से ज्यादा नहीं होगी.

सभी तीर्थ स्थानों से मंगाया पानी-मिट्टी

भूमि पूजन कार्यक्रम के लिए देश के सभी तीर्थ स्थलों की मिट्टी और पानी का उपयोग होगा. इसके लिए काम शुरू हो चुका है. जगह-जगह से मिट्टी-पानी लाया जा रहा है. भूमि पूजन के कार्यक्रम को बाकी लोग भी देख सकें, इसके लिए जगह-जगह टीवी स्क्रीन लगाई जाएंगी. भूमि पूजन का ‘दूरदर्शन’ पर लाइव प्रसारण भी किया जाएगा. ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास ने बताया कि भूमि पूजन के लिए 40 किलो चांदी से बनी एक ईंट रखी जाएगी.

ट्वीट में देखिए चांदी की वह ईंट जिसका उपयोग भूमि पूजन में होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here